रुड़की:जनसभा में सीएम को छात्रों ने दिखाए काले झंडे, पेट्रोल डालने की कोशिश, कई को पुलिस ने हिरासत में लिया।

ब्यूरो रिपोर्ट
रुड़की/समाचार
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेहरू स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के आयुष कॉलेज के छात्र काली पट्टियों के साथ ग्राउंड में पहुंच गए और मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाकर व हाथों पर काली पट्टी बांधकर विरोध प्रकट किया। साथ ही मुख्यमंत्री मुर्दाबाद, भाजपा सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाएं। छात्रों का आरोप था कि 2 दिन पूर्व अपनी मांगों को लेकर देहरादून के परेड ग्राउंड में अनशन पर बैठे छात्रों को प्रशासन द्वारा जबरदस्ती उठाने का प्रयास किया और अंधेरा कर छात्रों पर डंडे बरसाए गए। इस घटना में 2 छात्रों की हालत गंभीर बनी हुई है, जिनका एक निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। सरकार द्वारा किये जा रहे कोर्ट के फैसले के विरोध में प्रदेश के तमाम आयुष कॉलेजों के छात्रों ने आज एकत्र होकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का घेराव किया और उन्हें काले झंडे दिखाए।
छात्रों का यह भी आरोप है कि जिस संविधान की शपथ लेकर वह मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे है, आज उसी संविधान के फैसले का वह विरोध कर रहे हैं। छात्रों ने यह भी बताया कि मोदी सरकार युवाओं को शिक्षा के प्रति जागरूक करने की बात कह रही है और प्रदेश सरकार उनके आदेश को ठेंगा दिखा रहे है। प्रदर्शन कर रहे छात्रों को पुलिस ने नेहरु स्टेडियम से धक्के देकर बाहर निकाला और प्रदेश के मुख्यमंत्री यह सब देखते रहे।
वही जनसभा में बैठे एक व्यक्ति ने अपने ऊपर पेट्रोल डालकर आत्मदाह का प्रयास किया, जिसे सुरक्षा कर्मियों ने समय रहते रोक लिया। इससे पूर्व आजाद नगर चोक खुलवाने के लिएधरने पर बैठे स्थानीय लोगो ने भी काले झंडे दिखाने के लिए सीएम कार्यक्रम की ओर कूच किया, लेकिन सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और ऊन्हे हिरासत में ले लिया।

anupamsaini

Read Previous

देहरादून:लानत है ऐसी सरकार पर,छात्रों को भी नही बक्शा, पुलिस ने अनशनरत छात्रों पर बरसाए लात-घूसे।

Read Next

रुड़की:नगर निगम चुनाव की अधिसूचना जारी, 22 नवंबर को होंगे चुनाव।