भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी व उनकी पत्नी को मिला अर्थशास्त्र वर्ग में नोबेल पुरस्कार।

आज नोबेल पुरस्कार प्रदान करने वाली अंतराष्ट्रीय समिति ने अर्थशास्त्र के क्षेत्र में इस वर्ष 2019 में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए तीन लोगों को संयुक्त रूप से नोबेल पुरस्कार दिये जाने की घोषणा की है।इस पुरस्कार की ख़ास बात यह है कि इस बार अर्थशास्त्र की श्रेणी में नोबेल पाने वालों में एक अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी भी हैं,जो भारतीय मूल के हैं।उनके अलावा दो अन्य व्यक्तियों एस्तेर डफ़्लो और माइकल क्रेमर. को भी अर्थशास्त्र वर्ग में नोबेल के लिए नामित किया गया है।
इन तीनों अर्थशास्त्रियों को वैश्विक गरीबी को कम करने के लिए उनके प्रयोगात्मक दृष्टिकोण के लिए यह पुरस्कार दिया जा रहा है।अभिजीत बनर्जी भारत में मूलत: कोलकाता(पश्चिम बंगाल) के रहने वाले हैं तथा उनका जन्म भी कोलकाता में ही हुआ है।अभिजीत के माता-पिता भी अर्थशास्त्र के प्रोफेसर रहे हैं। अभिजीत बनर्जी वर्तमान में एमआईटी में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर हैं।
Esther Duflo अर्थशास्त्र के क्षेत्र में नोबेल पाने वाली दूसरी महिला अर्थशास्त्री हैं तथा वह अभिजीत बनर्जी की पत्नी भी है एवं नोबेल प्राप्त करने वाली सबसे युवा अर्थशास्त्री भी हैं।

anupamsaini

Read Previous

रुड़की:सरल प्रक्रिया के साथ जल्द होगी इकबालपुर मिल की चीनी नीलाम: चौ. पदम सिंह भाटी

Read Next

ऊत्तराखण्ड: हरियाणा विधानसभा चुनाव हेतु ऊत्तराखण्ड कांग्रेस के प्रचारकों की सूची जारी।